16-Apr-2020 08:47

प्रश्न प्रहर में उठा गेंहूं का समर्थन मूल्य बढाने व आपदा राहत मुहैया कराने की मांग

100-150रुपयें में निर्मित सीमेंट 400में बिकता है 3 रु.में निर्मित ईंट 7 रू.में बिकता है।

आज किसान समस्या के समाधान हेतु प्रश्न प्रहर में किसानों की समस्या समाधान कर रहे। अपर जिलाधिकारी रमेशचन्द्र से दूरभाष पर वार्ता के क्रम में किसानों ने क्रय केन्द्र न होने या दूर होने की समस्या पिछले बार के सापेक्ष इस बार घटतौली पर पूर्ण अंकुश लगाने व ई भुगतान के तहत तत्काल पैसा खाते में भेजने व बिचौलियों का अंकुश समाप्त कराने के साथ साथ गेंहू का घोषित। समर्थन मूल्य अपर्याप्त बताते हुए समर्थन मूल्य बढाने की बात की। इसी क्रम में किसान नेता व समाजसेवी चन्द्रमणि पाण्डेय ने किसान समस्या पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि जब स्वस्थय रहेगा। किसान तब कृषि उत्पादन करेगा किसान ग्रामीण क्षेत्र में स्थापित प्राथमिक चिकित्सा सुविधाओं का जहां अभाव है।

वहीं चिकित्सक भी नदारद रहते हैं हर्रैया विकास खण्ड के काशीपुर में तैनात चिकित्सिका वर्षों से नदारद चल रही हैं और प्रसासन आंख मूंदे बैठा है। ऐसे में किसानों के अच्छे दिन कैसे आयेंगें उन्होंने कहा कि 100-150रुपयें में निर्मित सीमेंट 400में बिकता है 3 रु.में निर्मित ईंट 7 रू.में बिकता है।

10-20रू. प्रति के. जी. बिकने वाले आलू से बना चिप्स 150-250 रू. के. जी. बिकता है। किन्तु किसानों को उत्पादन लागत भी नहीं मिल रहा है। कारण एक बीघे की जोताई बोवाई 1000 कटाई 1000 सिंचाई 1000 मडाई 500 बीज 600 खाद व दवा 500 क्रय केन्द्र तक ढुलाई 100 मिलाकर 4700 लागत के उपरांत बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि के चलते उत्पादन 1 क्विंटल से 3 क्विंटल भींग हुआ है।

ऐसे में कृषि उत्पादन का समर्थन मूल्य बढाना व आपदा राहत दिया जाना नितांत आवश्यक है। कुछ इसी तरह की मांग अधिकांश किसानों की रही, जिसपर अधिकारी स्पष्ट जबाब देने में असमर्थता जताते हुए अपरजिलाधिकारी ने मांगों से शासन को अवगत कराने का आश्वासन दिया।

16-Apr-2020 08:47

अर्थव्यवस्था मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology