27-Jun-2018 11:36

बहुजन मुक्ति पार्टी ने ईवीएम के खिलाफ फूंका बिगुल

बिहार राज्यव्यापी परिवर्तन यात्रा का किया गया शुभारंभ

पटना । बहुजन मुक्ति पार्टी द्वारा बिहार राज्यव्यापी परिवर्तन यात्रा का शुभारंभ मंगलवार को गाँधी मैदान स्थित श्री कृष्णा मेमोरियल हॉल में किया गया । राजर्षि छत्रपति शाहूजी महाराज के जन्मदिवस के अवसर पर आयोजित इस समारोह का शुभारंभ जस्टिस सी जे कर्नन ( सेवनिर्वित न्यायाधीश हाईकोर्ट ) के द्वारा किया गया । इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में मा. सिमरनजीत सिंह मान ( अध्यक्ष, शिरोमणि अकाली दाल, पंजाब ) मो. लिकायत अली (प्रबंधक, हज भवन, पटना) मो. सोहैल अख्तर कासमी ( सचिव दीन बचाओ देश बचाओ ) व विशिस्ट अतिथि में उदय नारायण चौधरी, मा. सालखन मुर्मू, राधिका वेमुला, ओमप्रकाश कुशवाहा शामिल हुए । कार्यक्रम में लोगों को सम्बोधित करते हुए बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष वी एल मातंग ने कहा की जब तक भारत देश में ईवीएम पर पाबन्दी नहीं लगती है तब तक लोकतंत्र को बचाना असंभव हैए क्योकि निर्वाचन आयोग द्वारा अपनायी जा रही ईवीएम में आसानी से गरबड़ी की जा सकती है ए ऐसा वैज्ञानिकों ने प्रमाणित किया है । विकसित देशों में ईवीएम द्वारा चुनाव नहीं होते क्योकि यह प्रक्रिया विश्वसनीय नहीं है । वहीँ अपने संबोधन में पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उमाशंकर साहनी ने कहा की 26 जून से 25 जुलाई 2018 तक चलने वाले इस 30 दिवसीय यात्रा का समापन वीरांगना फूलनदेवी की शहादत दिवस पर किया जाएगा । उन्होंने कहा की 24 अप्रैल 2017 को सुप्रीम कोर्ट ने ईवीएम को शत प्रतिशत पेपर ट्रेल मशीन लगाने का जो फैसला दिया वह अधूरा हैए क्योकि इसमें रीकॉउंटिंग करने की व्यवस्था नहीं होने के कारण इससे होने वाले चुनाव मुक्त, निष्पक्ष और पारदर्शी होना असंभव है, इसीलिए बैलेट पेपर से चुनाव किये जाने चाहिए ।

आज इसी ईवीएम का दुरुपयोग करके देश के नागरिकों के मौलिक अधिकारों का हनन किया जा रहा है । इस षड्यंत्र की जानकारी आम जनता को देकर अपने अधिकारों की रक्षा करने नागरिकों को तैयार करने हेतु बहुजन मुक्ति पार्टी के नेतृत्व में बिहार राज्यव्यापी परिवर्तन यात्रा का आयोजन किया गया है ।

उमाशंकर ने बिहार राज्य के सभी मूलनिवासी बहुजनों से आग्रह किया की अपने मौलिक अधिकारों की रक्षा करने के लिए इस परिवर्तन यात्रा में भारी संख्या में शामिल हो ।

मौके पर पूनम कुशवाहा, चंद्रभूषण चंद्रवंशी, बैजनाथ यादव, विद्याज्योति, मोनी पासवान, पी. ऍन. पी. पाल सहित हजारों की संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए ।

27-Jun-2018 11:36

अर्थव्यवस्था मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology