01-Feb-2019 09:32

डेलनाज बलसारा शर्मा बनी मिसेज एशिया यूनिवर्स

आज बादलों ने फिर साज़िश की जहाँ मेरा घर था वहीं बारिश की अगर फलक को जिद है, बिजलियाँ गिराने की तो हमें भी ज़िद है ,वहीं पर आशियाँ बनाने की

डेलनाज बलसारा शर्मा ने न सिर्फ इश्योरेंस और सामाजिक क्षेत्र में बल्कि अब फैशन और मॉडलिंग की दुनिया में भी अपनी अलहदा पहचान बना ली है। उनकी जिंदगी संघर्ष, चुनौतियों और कामयाबी का एक ऐसा सफ़रनामा है, जो अदम्य साहस का इतिहास बयां करता है। डेलनाज बलसारा शर्मा ने अपने करियर के दौरान कई चुनौतियों का सामना किया और हर मोर्चे पर कामयाबी का परचम लहराया। डेलनाज बलसारा शर्मा ने हाल ही में फिलिपिंस में आयोजित मिसेज एशिया यूनिवर्स 2018 में हिस्सा लिया और विजेता का ताज अपने नाम करने में सफल रही।

फिनाले में देश-विदेश की 88 प्रतिभागियों ने शिरकत की थी। डेलनाज को मिसेज एशिया यूनिवर्स 2018 के साथ ही ब्रिलियेंट परफार्मेंस के खिताब से भी नवाजा गया। इससे पूर्व डेलनाज ने मिसेज इंडिया सी इज इंडिया के फिनाले में शिरकत किया और मिसेज इंडिया फर्स्ट रनर अप के साथ ही मिसेज इंडिया ब्यूटीफुल स्किन का भी खिताब अपने नाम किया है।

डेलनाज ने बताया कि वह इस बात को लेकर गर्व महसूस करती है कि वह पटना की बहू है। महाराष्ट्र के मुंबई में जन्मी डेलनाज के पिता श्री परवेज बलसा और मां श्रीमती परवीन बलसारा दोनो ही सिपिंग व्यवसाय से जुड़े हुये थे। माता-पिता ने घर की लाडली बड़ी बेटी डेलनाज को अपनी राह खुद चुनने की आजादी दे रखी थी। जुनूँ है ज़हन में तो हौसले तलाश करो मिसाले-आबे-रवाँ रास्ते तलाश करो ये इज़्तराब रगों में बहुत ज़रूरी है उठो सफ़र के नए सिलसिले तलाश करो डेलनाज बिजनेस वुमेन बनना चाहती थी। डेलनाज ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई से की। इंटर की पढ़ाई पूरी करने के बाद डेलनाज ने मुंबई के ब्रिटिश काउंसिल में वीजा सपोर्ट एक्सक्यूटिव के तौर पर काम करना शुरू कर दिया। करीब दो साल तक काम करने के बाद डेलनाज जेपी मॉरगन से जुड़ गयी और वहां काम किया। इसके बाद डेलनाज इंश्यूरेंस के क्षेत्र में अग्रणी रेलिगेयर के साथ जुड़ गयी और कस्टमर सपोर्ट एक्सक्यूटिव के तौर पर काम किया। बाद में डेलनाज की मेहनत को देखते हुये उन्हें कंपनी हेड कस्टमर मैनेजर भी बनाया गया।

दुनिया के सबसे बेहतरीन और मशहूर लोग वो होते है जिनकी अपनी एक अदा होती है…. वो अदा जो किसी की नक़ल करने से नही आती… वो अदा जो उनके साथ जन्म लेती है…!! डेलनाज बलसारा शर्मा की शख्सियत की कुछ ऐसी हीं है। डेलनाज अबतक इश्योरेंस के क्षेत्र में अपनी सशक्त पहचान बना चुकी थी। उनकी काबलियत को देखते हुये उन्हें रिलायंस और कोटक जैसी इश्योंरेस के क्षेत्र में अग्रणी कंपनियों में भी काम करने का अवसर मिला। ।वर्ष 2013 में डेलनाज की शादी अमिताभ शर्मा से हो गयी। आम तौर पर युवती की शादी के बाद उसपर कई तरह की बंदिशे लगा दी जाती है लेकिन डेलनाज के साथ के साथ ऐसा नही हुआ। डेलनाज के पति के साथ ही ससुराल पक्ष के सभी लोग ससुर विजय नारायण शर्मा सास निर्मला शर्मा और देवर आदित्य शर्मा ने उन्हें हर कदम सर्पोट किया। उसे गुमाँ है कि मेरी उड़ान कुछ कम है मुझे यक़ीं है कि ये आसमान कुछ कम है डेलनाज यदि यदि चाहती तो एक सामान्य शादीशुदा महिला की तरह जिंदगी जी सकती थी लेकिन वह आगे भी अपनी पहचान बनाना चाहती थी साथ ही समाज के लिये भी कुछ करना चाहती थी। इसी को देखते हुये वह सेव द चाइल्ड , सोपान , ग्रीन पीस , डब्लू डब्लू एपफ, हैबिटेट फॉर हयूमिनेटी जैसे स्वयं सेवी संगठन के साथ जुड़कर महिला सशक्तीकरण ,बच्चों के स्वास्थ्य-शिक्षा ,घरेलू हिंसा के रोकथाम के लिये काम कर रही है। अपना ज़माना आप बनाते हैं अहल-ए-दिल हम वो नहीं कि जिन को ज़माना बना गया डेलनाज शर्मा फैशन और मॉडलिंग की दुनिया में अपना नाम रौशन करना चाहती थी। डेलनाज के दिल में कुछ कर गुजरने की ख्वाहिश थी । सुष्मिता सेन और ऐश्वर्या राय को आदर्श मानने वाली डेलनाज ने दिल्ली में हुये मिसेज इंडिया सी इज इंडिया फिनाले में हिस्सा लिया और फर्स्ट रनर अप के साथ ही ब्यूटीफुल स्क्रिन का भी खिताब अपने नाम कर लिया। डेलनाज आज फैशन-मॉडलिंग , इश्योंरेंस और सामाजिक क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाने में कामयाब हुयी है लेकिन उनके सपने यूं ही नही पूरे हुये हैं यह उनकी कड़ी मेहनत का परिणाम है।डेलनाज ने बताया कि वह अपनी कामयाबी का पूरा श्रेय अपने पति को देती हैं जिन्होंने उन्हें हमेशा सपोर्ट किया है।

01-Feb-2019 09:32

कला मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology