03-Apr-2018 08:08

तुम डाल डाल तो मैं पात पात

दिन दहाड़े सुबह 9:30 में अपराधियों ने एक पुलिसकर्मी को गोलियों से ताबड़तोड फायरिंग कर भाग निकले, वहीं पुलिसकर्मी की हुई मौत।

वैशाली पुलिस के काम करने के तरीकों पर निरंतरता के साथ सवाल उठते रहे हैं। ताजा उदाहरण है कि मंगलवार की सुबह एक अपराधी को छुड़ाने आई, अपराधियों की टीम सफल रही और पुलिसकर्मी को गोलियों से भून दिया। अस्पताल पहुँचते पहुँचते पुलिसकर्मी की मौत हो गई। वैशाली जिला में पुलिसिंग कितनी अच्छी है इसका ताजा उदहारण अभी देखने को मिला। हाजीपुर जुमेनाइल कोर्ट में तैनात सिपाही को न्यायालय कोर्ट का कार्यकाल शुरू होते ही गोली मार दिया। गोली मारने का कारण प्रिंस कुमार वैशाली जिला के गोरौल थाना क्षेत्र के हुसैन गांव निवासी है, जिसे छुड़ाने के लिए इस काण्ड को आंजाम दिया गया है। वहीं प्रिंस को कैद से छुड़ाने के दौरान बिहार पुलिस के सिपाही को पेट में गोली मारी गई। गोली सिपाही के पेट में आर-पार होकर निकल गया। घायल सिपाही को स्थानीय लोगों ने सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहाँ से उसकी हालत नाजुक बताते हुए डॉक्टर ने पटना रेफर कर दिया। इसी दौरान सदर अस्पताल परिसर में ही सिपाही की मौत हो गई। अपने साथी को गोली मारे जाने की सुचना पर कोर्ट में तैनात अन्य पुलिसकर्मी भी सदर अस्पताल पहुँच गए। वही घटना की सुचना पर नगर थानाध्यक्ष सुनील कुमार भी दल बल के साथ सदर अस्पताल पहुँचे। पूरी घटना नगर थाना क्षेत्र के कचहरी रोड की बताई गई है। मृतक पुलिसकर्मी राम इकबाल रविदास पटना जिला के धनरुआ थाना क्षेत्र का रहने वाले बताए गए है। घटना के बाद कचहरी रोड और सदर अस्पताल में लोगों की भारी भीड़ जुटी है। मामले को जिसने भी जाना स्तब्ध रह गया। आखिर पुलिसकर्मी को किसी ने गोली किस कारण से मारा। घटना के बाद लोगों में काफी आक्रोश व्याप्त है। अपील : वैशाली में पुलिस को कैदी को छुड़ाए जाने के दौरान गोली मारे जाने के घटना के बाद वैशाली पुलिस ने उस युवक की तस्वीर जारी कर दी। जिसे आज पेशी के लिए न्यायालय में लाया गया था। युवक प्रिंस कुमार वैशाली जिला के गोरौल थाना क्षेत्र के हुसैन गांव निवासी नंदकिशोर सिंह का बेटा है। वैशाली पुलिस ने आम लोगों से अपील की है की इसे कहीं भी देखे जाने पर जिला पुलिस कप्तान राकेश कुमार ने मोबाइल नंबर 9431822985,नगर थानाध्यक्ष सुनील कुमार के मोबाइल 9431822866 या अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी हाजीपुर के मोबाइल 9431800083 पर सुचना दें। लंबे समय से वैशाली पुलिस अधीक्षक के काम करने के तरीकों पर सवाल उठते रहे हैं, लेकिन कोई भी वरिय पदाधिकारी इस बात पर ध्यान ही नहीं दे लहा है कि वैशाली चल कैसे रहा हैं। पुलिस और अपराधियों के बीच " तु डाल डाल तो मैं पात पात " का खेला चल रहा है।

03-Apr-2018 08:08

जुर्म मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology