22-Sep-2018 04:59

धारा 144 का यह शानदार प्रदर्शन, वैशाली प्रशासन गायब

वैशाली जिला के जढ़ुआ क्षेत्र में जोकि हाजीपुर नगर परिषद क्षेत्र में आता है । जहां पर 20 सितंबर की रात को जिलाधिकारी वैशाली एवं पुलिस अधीक्षक वैशाली द्वारा धारा 144 लगा दिया गया। जिसके बाद जिले में दो अखाड़ों के बीच झगड़े में दो लोगों की आपसी मुठभेड़ में

आज एक बार फिर जब हाजीपुर पूरा शहर जल रहा है। उस माहौल में जढ़ुआ अखाड़े में से निकला हुआ। जुलूस तलवार की नोक पर रखी गई है। आप यहां पर जो फोटो देख रहे हैं, वह लगभग दोपहर के 3:00 बजे का है। जो कि हाथों में तलवार लिए साथ ही हाथ में पिस्तौल लेकर लोग घूम रहे हैं। जिस पर शायद वैशाली प्रशासन की नजर नहीं जा पा रही है। समझ नहीं आ रहा है कि आखिर किस तरीके से वैशाली में धारा 144 लागू है। इस तरीके से खुलेआम हथियारों का प्रदर्शन हाजीपुर शहर में चल रहा है। जिसके बारे में हम आपको पहले भी बता चुके हैं एवं विस्तृत जानकारी के साथ आगे और भी आपको बता रहे हैं।

सर्वविदित है कि पिछले 2 दिनों में वैशाली जिला के हाजीपुर क्षेत्र का माहौल बहुत ही खराब हो चुका है। खराब होने का कारण भी बहुत स्पष्ट है कि प्रशासन की जो भूमिका वैशाली जिले में चल रही है, वह संदेहास्पद है। यह इसलिए भी कि राजनीति से प्रभावित होकर वैशाली पुलिस ने हिंदूवादी संगठन के संरक्षक की की गिरफ्तारी की थी। जिसके बाद हाजीपुर का माहौल खराब हो चला। क्योंकि गिरफ्तारी का कारण मुस्लिम समुदाय के मुहर्रम पर्व को लेकर के था। मुहर्रम में मुस्लिम समुदाय द्वारा हथियारों का प्रदर्शन खुलेआम किया जाता है। जिसका प्रमाण कई वर्षों से देखने को मिला है। पिछले साल पुलिस अधीक्षक रहे राकेश कुमार द्वारा हाजीपुर शहर में खुद ही एस्कॉर्ट कर मोहर्रम का जुलूस निकलवाया था। जिसके बाद हाजीपुर शहर का माहौल एक समुदाय विशेष के लिए प्रशासनिक तौर पर मजबूत किया गया। प्रशासन की भूमिका इसी को लेकर हमेशा से संदेहास्पद रहा है। जिसकी वजह से हिंदू पुत्र संगठन के राजीव ब्रह्मर्षि द्वारा जो मांग रखी गई थी, प्रशासन एवं बिहार सरकार से। उसमें ब्रह्मर्षि के कड़े रुख को देखते हुए प्रशासन अपने नाकामयाबी को छुपाने के लिए राजीव ब्रह्मर्षि की गिरफ्तारी कर ली थी। जिसके बाद प्रशासन को आशंका थी की हाजीपुर शहर में मुहर्रम के दिन हिंदूवादी संगठनों द्वारा माहौल खराब करने का प्रयास किया जाएगा। जिसको लेकर 20 सितंबर की रात को धारा 144 पुरे जिले में लगा दी गई। जिसके बावजूद भी जिले की स्थिति बद से बदतर हो गई।

वहीं 20 की देर रात एवं 21 की भोर में दो गुटों में आपसी मुठभेड़ हुई, जो कि दो अखाड़ों के बीच के झगड़े थे। जिसमें आपसी विवाद में दो मुस्लिम समुदाय के लोग एक दूसरे को गोली मारते हैं और दोनों की मृत्यु हो जाती है। जिसके बाद सदर अस्पताल में भारी हंगामा की गई और डॉक्टरों को मारा पीटा जाता है। यह कोई नई बात नहीं थी कि किसी डॉक्टर पर जिले के अंदर हमला हुआ। सदर अस्पताल लगातार इस तरह की घटनाओं का गवाह बना हुआ है। घटना के बाद इसे मुस्लिम समुदाय द्वारा हिंदू समाज पर आरोप लगाते हुए धार्मिक द्वैष की भावना कर फैलाया गया। जिसके बाद हाजीपुर के मस्जिद चौक क्षेत्र में सैकड़ों मुस्लिम समुदाय के अखाड़ों के लोगों के द्वारा उस क्षेत्र में रहने वाले हिंदुओं के घर पर हमला किया। वहीं बता दें कि लगभग 4000 से 5000 अखाड़े की भीड़ ने घरों पर तोड़फोड़ की, पथराव किया, गोलीबारी की, आगजनी की, वहीं साथ ही साथ आतंकी गतिविधि कर लोगों में खौफ फैला दिया। जिसके बाद पुलिस प्रशासन को खबर मिली और जिला प्रशासन सक्रिय होने के साथ-साथ भारी मात्रा में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई। जिसके बाद शहर में माहौल काबू में आया, लेकिन जिले की स्थिति पिछले 2 दिनों से खराब बनी हुई है। जिसका नतीजा बहुत बुरा हो सकता है। जिसके लिए शायद वैशाली जिला प्रशासन अभी तैयार नहीं।

वहीं ज्ञात हो कि हाजीपुर शहर में अपनी आपसी खुन्नस निकालने के लिए हमलावरों ने मुहर्रम को चुना। मृतकों के साथ हमलावरों की क्या दुश्मनी थी, इसका पता अभी तक प्रशासन नहीं लगा पाई है। लेकिन फायरिंग की घटना के बाद दो गुटों के बीच में हिंसक झड़प हुई। जिसके दौरान उपद्रवी युवकों ने आसपास की निर्दोष हिंदू परिवारों पर रोड़े बाजी कर, लोगों को दहशत में डाल दिया। हिंदू परिवारों के दरवाजे खिड़कियों के कांच तोड़ दिए गए। साथ ही उपद्रवियों ने लोगों के गेट को भी तोड़ने का प्रयास किया। मंदिरों पर भी हमले किए। साथ ही साथ आने जाने वाले लोगों को भी परेशान करने का काम किया। वहां रहने वाले लोग समझ नहीं पाए कि घटना क्या है। जब तक लोग समझते तब तक बहुत सारी बातें आगे बढ़ चुकी थी। जिसका परिणाम यह हुआ कि आज पूरा का पूरा हाजीपुर शहर दहशत में अपना जीवन जी रहा है। वहीं लगभग आधा हाजीपुर व्यापारिक क्षेत्र डर से लगभग बंद है।

22-Sep-2018 04:59

जुर्म मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology