05-Jul-2019 10:52

हर कोई अपनी हत्या की बारी का इंतजार में, यहीं हालत हैं वैशाली जिले की

अगला नंबर किसका, आपका तो नहीं, घर परिवार से मिलकर संतुष्ट हो लें, कब हत्यारा आपको गोली मारी दें

महज ही कहा जायेगा कि चंद घंटों पहले ही पुरे शहर और खास युवाओं की समूह न्याय और सुरक्षा के लिए वैशाली समाहरणालय पर घंटों सुरक्षा की गुहार में बैठे रहें। लेकिन पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो कार्यालय तो छोड़िए घर छोड़कर भाग गए। हर कोई अपने अपने घर पहुंच कर सांसें भी नहीं ली होगी कि एक और हत्या करने का प्रयास किया गया। ईश्वर की कृपा कहें या कहें अभी नहीं जाना था, इसलिए गोली सिर्फ घायल कर चली गई। लेकिन वहां के क्षेत्र में एक गजब का सन्नाटा छा गया है। हाजीपुर दिग्घी में नीरज सिंह को आज अपराधियों ने गोली मार दिया है । जिले के पुलिस पदाधिकारी सब क्या कर रहे है ? क्या हो गया है इस शहर के कानून व्यवस्था को ? अब अत्यंत जरूरत है जिले के प्रशासन व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों पर एक दमदार सर्जिकल स्ट्राइक की जाए। यह कहते हुए सत्येन्द्र कुमार भावुक हो जाते हैं।

ज्ञात हो कि हाजीपुर शहर के दिघी क्षेत्र में अपराध चरम पर है। महज चंद दिनों पहले जमीन कारोबारी सह जदयू नेता मुकेश सिहं की अपराधियों ने हत्या कर दी थी। वहीं दिघी क्षेत्र में ही आज फिर मोटरसाईकिल सवार अपराधियों ने सिमेंट व्यवसाई पर कातिलाना हमला किया। मिली जानकारी के अनुसार सीमेंट व्यवसाई गुड्डू सिंह अपनी ऑल्टो कार से तगादा करने सराय की ओर जा रहे थे। तभी बाइक सवार अपराधियों ने उन पर गोलीबारी की.इस हमले में सीमेंट व्यवसाई गुड्डू सिंह को हाथ में एक गोली लगी। वह खतरे से बाहर है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है मगर अपराधियों के बढ़ते मंसूबे पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हैं। क्या आज वैशाली में सब "आल इज वेल" का दावा किये जा रहे वैशाली जिले के मुख्यालय में कानून का खौफ हैं। आज फिर कानून के नाक के नीचे हाजीपुर में अपराधियों ने छोटी मड़ई के व्यवसायी को सरेआम गोली मार दिया है । पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो के नेतृत्व का परिणाम है कि गोली बाँह में लगी है, वरना इरादा तो आपलोगों ने इतने मजबूत कर रखे हैं अपराधियों के की चुटकी में मर्डर कर देना आम बात हो गयी है यहाँ । मुर्गी बकरी को पता है कि शाम में उसकी गर्दन रेत दी जायेगी मगर हाजीपुर की जनता को आपके कानून ने इतना भय समा दिया है कि उसे नहीं पता कि घर से निकलते कब कहाँ उसकी गर्दन रेत दी जाएगी या खोपड़ी उड़ा दी जायेगी।

लाख धरना प्रदर्शन करने के बावजूद ना तो पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो के कानों पर जूं रेंग रहा है और ना ही पुलिस महकमा के बड़े-बड़े आला अधिकारियों की। बिहार के पुलिस महानिदेशक लगातार फेसबुक पर ड्रामा करते नज़र आते हैं और लंबी लंबी फेंकते अक्सर देखा जाता है। पर वैशाली पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो पर उनके बातों का कोई असर नहीं है। सर्वविदित हो गया है कि मानवजीत सिंह ढिल्लो कर्त्तव्य विहिन प्रशासनिक अधिकारियों में से एक है। इतिहास लिखने के कागार पर पहुंच चुके मानवजीत सिंह ढिल्लो ना जाने कितनी और हत्या कराने के बाद वैशाली पुलिस अधीक्षक का भार अपने कंधे से उतारेंगे। मानवजीत सिंह ढिल्लो से जिलाधिकारी वैशाली ने भी स्पष्ट शब्दों में बातें की पर वह देखते हैं कह कर रख दिया। यानी वैशाली की जनता डर और मौत के साये में लगातार जीता रहे।

आठ विधायकों और तीन सांसदों वाला वैशाली आज नपुंसक नेतृत्व के कारण डरा हुआ हैं। यहां केन्द्रीय मंत्री तक वैशाली से आते-जाते हैं पर वैशाली को अपराधियों का अड्डा बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। यहां नपुंसक शब्दों का प्रयोग शायद बहुत लोग उचित नहीं मानेंगे, पर जब लगातार हत्याकांड में बढ़ोतरी हो रही हो और पुलिस अधीक्षक नींद से सोया हुआ हो तो क्या कहेंगे। सांसद आरक्षण के मार से दबा है, कहा जाता है कि नशे की बारी लत हैं वर्तमान हाजीपुर सांसद को। जिसके कारण ही सांसद महोदय कहीं आना जाना नहीं चाहते हैं। उजियारपुर सांसद भी वैशाली के एक क्षेत्र के एक विधानसभा से ही जुड़े हैं, लेकिन हाजीपुर के विधायक रहते हुए अपराध का ग्राफ खुब ऊंचा बढ़ाया। आज भले ही केन्द्र राज्य मंत्री हैं लेकिन स्वभाव वहीं। वैशाली सांसद को क्षेत्र का ज्ञान नहीं है वहीं उन्हें इन सब से क्या लेना देना है। इस हत्या और अपराधी को संभालने के लिए उनके संगे रिश्ते मजबूत हैं। अब ईश्वरीय शक्ति ही वैशाली की जनता को पार घाट उतार सकती हैं। हर कोई अपने अपने बारी के इंतजार में हैं कि कल या अगला नंबर हमारा तो नहीं।

05-Jul-2019 10:52

जुर्म मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology