26-Nov-2019 06:42

मोदी जी और अमित शाह भरतीय जनता को दिखा रहे हैं और लोकतंत्र का चीरहरण

सत्ता के मद में शासकीय तानाशाही का घृणित रूप आज मोदी जी और अमित शाह भरतीय जनता को दिखा रहे हैं

महाराष्ट्र प्रकरण में राजनीतिक ओछापन और संवैधानिक अधिकारों के खुल्लमखुल्ला दुरुपयोग को देखते हुए राष्ट्रपति महामहिम श्री रामनाथ कोविंद जी और महाराष्ट्र के राज्यपाल महामहिम भगत सिंह कोश्यारी पर विपक्ष द्वारा महाभियोग लाना चाहिए l

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन को जिस तरह से भंग कर रातोरात देवेन्द्र फडणवीस को मुख्यमंत्री और अजित पवार को उपमुख्यमंत्री बनाया गया इसके लिए महामहिम राष्ट्रपति और महामहिम राज्यपाल दोनों ही समान रूप से दोषी हैं l जिन्हें नैतिकता के आधार पर स्वतः स्तीफा दे देना चाहिए l क्योंकि इनलोगों ने संवैधानिक मर्यादा और लोकतांत्रिक सुचिता के विपरीत कार्य किया था l आननफानन में रातोरात इस तरह की तिकड़मबाजी कर संवैधानिक व्यवस्था का घृणित मजाक उड़ाया है l

सत्ता के मद में शासकीय तानाशाही का घृणित रूप आज मोदी जी और अमित शाह भरतीय जनता को दिखा रहे हैं और लोकतंत्र का चीरहरण कर रहे हैं l जिसका जबाब मराठाओं ने आज दे दिया है l महाराष्ट्र के विधायकों ने सत्ता मद में मदान्ध मोदी और अमित शाह के मंसूबों को चकनाचूर कर दिया है और बिल्कुल ही विश्व पटल पर पूर्ण रूप से नंगा कर दिया है l

ऐसी स्थिति में देश के तमाम विपक्षी पार्टियों को राष्ट्रपति और राज्यपाल के विरुद्ध महाभियोग प्रस्ताव लाना चाहिए l भले ही वो गिर जाय लेकिन देश में स्पष्ट रूप से संदेश जाना चाहिए कि लोकतंत्र के साथ घिनौना हरकत करने की कोशिशों को संरक्षण देने वाले संवैधानिक जिम्मेवार पदों पर आसीन को भी उनकी गलती पर नहीं छोड़ा जाना चाहिए l

26-Nov-2019 06:42

भारत_दर्शन मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology