02-Apr-2020 10:31

31 मार्च तक 3000 लोगों को किया गया है आर्थिक रूप से मदद

तीन हजार से ज्यादा लोगों के लिए दवाओं की व्यवस्था कर चुके हैं बिहारी मूल के उद्योगपति रमेश कुमार शर्मा

नवी मुंबई से संचालित हो रहा है हेल्पलाइन नंबर ◆ 31 मार्च तक 3000 लोगों को किया गया है आर्थिक रूप से मदद ◆ 14 अप्रैल तक जारी रहेगा अभियान, पटना जिले के नौबतपुर थाना अंतर्गत कोपा कला गांव के निवासी और एन आर आई उद्योगपति के रूप में अपनी पहचान बनाने वाले समाजसेवी रमेश कुमार शर्मा इन दिनों चर्चा का केंद्र बिंदु में है विगत 10 दिनों से उनके तरफ से एक अनूठा कार्य किया जा रहा है आप भी जानिए कि किस तरह से 3000 से ज्यादा लोगों की दवाइयों का खर्च रमेश कुमार शर्मा ने उठाया है. एक तरफ जहां सोशल मीडिया पर एक पैकेट खाना देकर फोटो खिंचवाने वाले लोगों का सामूहिक रुप से विरोध हो रहा है वहीं रमेश कुमार शर्मा मुंबई में बैठे-बैठे मनेर बीहटा पालीगंज विक्रम मसौढ़ी दानापुर फुलवारीशरीफ नौबतपुर इलाके के लोगों के लिए मसीहा के रूप में कार्य कर रहे है. इनके तरफ से एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है इस नंबर पर चिन्हित इलाकों के कोई भी व्यक्ति जिसके पास दवाई खरीदने कि पैसे नहीं हो तो फोन करके अपनी दवाई का परचा आधार कार्ड व संबंधित दवा दुकानदार का बिल भेजता है दूसरी तरफ से तुरंत दवा दुकानदार के अकाउंट में ऑनलाइन पेमेंट किया जा रहा है.

समाजसेवी रमेश कुमार शर्मा ने कोरोना संकट में फंसे लोगों की मदद के लिए जिस मानवीय उदारता का परिचय दिया है, वह निश्चित तौर पर सराहनीय है. दूसरे सक्षम लोगों को इससे प्रेरणा लेनी चाहिए. जनप्रतिनिधि अगर अपने-अपने क्षेत्र के लोगों की मदद का बीड़ा उठा लें तो संकट की इस घड़ी में मानवता की यह बड़ी सेवा होगी. मूल रूप से नौबतपुर थाना अंतर्गत कोपा कला गांव निवासी रमेश कुमार शर्मा ने नौबतपुर लाख निसरपुरा शहर रामपुर पिपलावा मसौढ़ी पालीगंज अरवाल मसोढा दुल्हिन बाजार कन्पा पतूत लई दानापुर सगुना मोर नेउरा खगौल फुलवारीशरीफ जानीपुर बभनपूरा महंगूपुर पुनपुन इलाके के सैकड़ों लोगों की मदद की है.

उनकी टीम के तरफ से एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है जो है 9869466399. उन्होंने काफी अच्छी तकनीक विकसित की है कि अगर कोई लाचार व्यक्ति दवा खरीदने दवा दुकान पर जाता है और उसके पास पैसा नहीं है तो दवा दुकानदार उनके द्वारा दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर उस मरीज का डिटेल और उसका बिल पर्ची भेजता है तो तुरंत उनके टीम के द्वारा भुगतान कर दिया जाता है जिससे फर्जीवाड़े की भी आशंका नहीं होती. मुंबई से दूरभाष पर उन्होंने बताया कि अब तक 10 दिनों के अंदर 3000 से ज्यादा लोगों ने इस सुविधा का लाभ उठाया है.

प्रतिदिन हजारों लोगों के फोन उनके द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर पर आ रहे हैं जांच पड़ताल के बाद जरूरतमंदों की सहायता की जा रही है दूसरी तरफ नवी मुंबई में फंसे बिहारियों के लिए भी उनके द्वारा भोजन और आवास की व्यवस्था की गई है जिसमें 500 से ज्यादा मजदूर भोजन आवास प्राप्त कर रहे हैं उन्होंने बताया कि लाक डाउन की अवधि तक यह सुविधा उनके द्वारा अनवरत जारी रहेगी.पटना में उनका मुख्यालय नौबतपुर सिनेमा हॉल भवन है जहां से उनके कार्यकर्ता पूरे कार्यक्रम की मॉनिटरिंग करते हैं.

02-Apr-2020 10:31

भारत_दर्शन मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology