CIN : U22300BR2018PTC037551

Reg: 847/PTGPO/2015(BIHAR)
The Fourth Pillar of Media
× Home अहान न्यूज़ RTI संपर्क
News Category
भारत दर्शन राजनीति जुर्म धर्म शिक्षा चिकित्सा परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान समाचार फिल्म सामाजिक संस्थान पर्यावरण खेल पुलिस Blog रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या सैनिक गांव शहर ज्योतिष सामान्य प्रशासन जन संपर्क छात्र छात्रा
01-Aug-2020 01:09

मुख्य चुनाव आयुक्त से शिक्षक संघ ने लगाई गुहार कोविड 19 के कहर तक चुनाव टालने की : प्रेमशंकर सिंह

बिहार के चुनाव कर्मियों के जान की कीमत 30 लाख आंकना घोर असंवेदनशील है जबकि जनता जनार्दन की कोई मोल नहीं है।

कोविड 19 के कहर के बीच बिहार विधान सभा चुनाव की सुगबुगाहट से इस चुनावी कार्यक्रम के अत्यंत प्रमुख पक्षकार बिहार के लाखों अराजपत्रित कर्मचारियों एवं शिक्षकों का प्रतिनिधित्व करने वाले संगठनों में से प्रमुख घटक टीईटी-एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ (गोपगुट) ने महामारी तक चुनाव टालने की गुहार मुख्य चुनाव आयुक्त से लगाई है।

इस आशय की जानकारी देते हुए टीईटी-एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ (गोपगुट) वैशाली के जिलाअध्यक्ष प्रेम शंकर सिंह एवं महासचिव पंकज कुमार ने कहा देश के अन्य हिस्सों की तरह बिहार में कोरोनावायरस जैसी वैश्विक महामारी गांव से लेकर राजभवन तक फैली है जो प्रतिदिन प्रमुख समाचार पत्रों एवं चैनलों पर प्रसारित हो रही है। संभावित अक्टूबर - नवम्बर के महीने में चुनाव के मद्देनजर यक्ष प्रश्न है कि कार्यवाही में प्रखंड स्तर से लेकर जिला स्तर तक वोटर लिस्ट, मतदान सामग्रियों को व्यवस्थित करने, चुनाव प्रशिक्षण, ईवीएम सहित अनेक सामग्रियों के आदान-प्रदान, मतदाताओं के आवागमन, मतदान के पश्चात मतपेटियों को जमा करने झुंड इक्कठा होती है।

उपर वर्णित कार्यवाही गतिविधियों में संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए जारी गाइडलाइन का पालन मुश्किल ही नहीं अपितु असंभव होगा जो जो कोविड 19 के विस्तार का कारक बनेगा। नतीजतन मतदान कर्मियों को संक्रमित होने, बिहार के अपर्याप्त जन स्वास्थ्य व्यवस्था के कारण जान पर गंभीर खतरा होगा। इस जानलेवा गंभीर मुद्दे पर कर्मचारियों शिक्षकों के मन में गहरी चिंता व्याप्त है जो बिल्कुल जायज है। (गोपगुट) संघ के राज्य सचिव सह कोषाध्यक्ष संजीत कुमार गुड्डू पटेल, जिला सचिव संजीव कुमार, जिलामीडिया प्रभारी राजेश कुमार पासवान ने कहा कि कोविड 19 के भयावहता के देखते हुए राजस्थान के महामहिम राज्यपाल विधानसभा सत्र बुलाने को तैयार नहीं है वहीं मीडिया की खबरों के अनुसार बिहार के चुनाव कर्मियों के जान की कीमत 30 लाख आंकना घोर असंवेदनशील है जबकि जनता जनार्दन की कोई मोल नहीं है।

जिला उपाध्यक्ष बिमलेश कुमार सिंह, जिलासंयोजक दिनेश कुमार ओझा, जिला कोषाध्यक्ष रणविजय कुमार, शिवचंद्र राय, रमन कुमार शर्मा, मोo एजाज़ अहमद के हवाले से मुख्य चुनाव आयुक्त से टीईटी-एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ (गोपगुट) के माध्यम से मांग की की उपरोक्त विषयक को ध्यान में रखकर महामारी की खतरा समाप्ति तक चुनाव टालने की कृपा की जाए।

01-Aug-2020 01:09
समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology