CIN : U22300BR2018PTC037551

Reg: 847/PTGPO/2015(BIHAR)
The Fourth Pillar of Media
17-Jan-2020 02:17

बेटी के शादी के लिए कोई इंसान बिना किसी स्वार्थ के आगे

बड़े भाई चिकित्सक डॉ विजय राज सिंह ने आज हम सभी का दिल जीत लिया विश्व सनातन संसद और नेशनल डेवलपमेंट ट्रस्ट की तरफ से आज एक गरीब कन्या के विवाह के लिए उन्होंने ₹51000 की राशि का सहयोग दिया

अनुकरणीय किसी गरीब की बेटी के शादी के लिए कोई इंसान बिना किसी स्वार्थ के आगे आता है तो उसकी भुरी भुरी प्रशंसा होनी चाहिए इसमें किसी का कोई निहित स्वार्थ नहीं होता बल्कि समाज के लिए यह उत्प्रेरक का कार्य होता है. बड़े भाई चिकित्सक डॉ विजय राज सिंह ने आज हम सभी का दिल जीत लिया विश्व सनातन संसद और नेशनल डेवलपमेंट ट्रस्ट की तरफ से आज एक गरीब कन्या के विवाह के लिए उन्होंने ₹51000 की राशि का सहयोग दिया. हाल ही में औरंगाबाद जिले के मटपा साढी में 21 गरीब कन्याओं के विवाह में भी उन्होंने बढ़-चढ़कर योगदान दिया था लाखों की भीड़ समक्ष 21 गरीब कन्याओं का सामूहिक विवाह हुआ था. स्वार्थ में डूबे इस युग में इस तरह के कार्य अनुकरणीय ही नहीं प्रशंसनीय भी है. आज जिस कन्या के विवाह के लिए डॉक्टर विजय राज सिंह आगे आए वह ना उनका कोई रिश्तेदार है ना कोई जानने वाला. वह व्यक्ति काफी आशा के साथ उनसे मिलने पहुंचा था विगत 1 महीने से वह अपने कई परिचितों और रिश्तेदारों के दरवाजे से दुत्कार खा चुका था बेटी की शादी सिर पर थी. डॉ विजय राज सिंह ने उसे वचन दिया कि उनकी बेटी के विवाह के दिन में खुद पूरी टीम के साथ बारातियों के स्वागत के लिए खड़े रहेंगे .

कौन है डा विजय राज सिंह छपरा जिले के एकमा प्रखंड के सरयूपार गांव के एक गरीब किसान परिवार में जन्म लेने वाले डा. विजयराज सिंह आज बिहार के अग्रणी चिकित्सको में शुमार है. भूख गरीबी काफी करीब से देखने वाले डा सिंह ने बड़े पैकेज वाले नौकरी करने अपेक्षा बिहार को ही अपना कार्य क्षेत्र बनाया . दो दशकों में इन्होंने हजारो गरीबों के सपने ही नहीं पूरे किए हमें दी आशा की एक किरण. डॉ विजय राज सिंह बिहार के ख्याति प्राप्त चिकित्सक होने के साथ ही साथ बहुयामी व्यक्तित्व के स्वामी भी है. ये अखिल भारतीय क्षत्रिय महा सभा के बिहार के प्रदेश अध्यक्ष हैं साथ ही साथ ग्लोबल राज प्रोडक्शन हाउस के माध्यम से इन्होंने एक साथ छह भोजपुरी फिल्मों के निर्माण की प्रक्रिया भी प्रारंभ की है जिसमें से एक फिल्म सच्चाई हमार जिंदगी बनकर तैयार है जिसका प्रदर्शन इस वर्ष ही होना है. पटना के गोला रोड में इनका अस्पताल राज ट्रामा सेंटर चौबीसों घंटे गरीब असहाय मरीजों की सेवा के लिए तत्पर रहता है .

अस्पताल में एक साथ 60 से ज्यादा चिकित्सक जुड़े हुए हैं .यहां गंभीर रोगों के इलाज के साथ ही साथ सामान्य रोगों का भी सुचारू पूर्ण ढंग से इलाज होता है. शिक्षा के क्षेत्र में गरीब और ग्रामीण परिवेश के छात्रों को आधुनिक शिक्षा देने के लिए डॉक्टर विजय राज सिंह ने बिहार के हाजीपुर में शांतिनिकेतन नाम से सीबीएसई से संबद्ध 12वीं तक मान्यता प्राप्त विद्यालय की स्थापना की है .फिलहाल इस विद्यालय में 5000 छात्र शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं. बिहार के औरंगाबाद में एक भव्य मंदिर का निर्माण भी डॉक्टर विजय राज जी करवा रहे है.जो अपने निर्माण काल से ही चर्चा केंद्र बिंदु में है .इसके निर्माण पर अब तक एक करोड़ से ज्यादा की राशि खर्च हो चुका है . मंदिर के निर्माण में में सहयोग कर सराहनीय कार्य किया है.

प्रतिवर्ष दर्जनों गरीब कन्याओं का विवाह करवाना ,सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना भी इनकी आदतों में शुमार है.बातचीत के क्रम मे इन्होने बताया कि उन्होंने गरीबी भूखा अभाव काफी नजदीक से देखा है.उन्होंने खुद के बल पर समाज को आगे बढ़ाने का प्रण कर रखा हैं इसी जज्बे के साथ अपनी ग्लोबल राज ग्रुप ऑफ कंपनी बनाकर चिकित्सा शिक्षा फिल्म निर्माण व विविध क्षेत्र में कार्य करना प्रारंभ किया है. साथ ही साथ में हजारों नौजवानों को रोजगार प्रदान किया है. राजनीति में आने के सवाल पर वे कहते हैं कि अगर आप की नीति सही है तो आप राजनीति में है.सभी दलों में उनके चाहने वाले लोग हैं और सभी दलों के राजनेताओं से वे संबंध रखते हैं .खुद राष्ट्रवादी हैं धार्मिक अनुष्ठानों में भी भाग लेते हैं सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं.

17-Jan-2020 02:17

व्यक्तित्व मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology