31-Jan-2020 08:18

जेनिथ कामर्स एकाडमी ने 25 विभूतियों को दिया सरस्वती सम्मान

प्रभात वर्मा ने कहा ज्ञान की देवी सरस्वती को विद्या प्रदान करने वाली देवी कहा जाता है

पटना 30 जनवरी राजधानी पटना के प्रतिष्ठित जेनिथ कामर्स एकाडमी में मां सरस्वती की पूजा श्रद्धा पूर्वक धूमधाम से की गई और इसके साथ ही समाज में अलग-अलग क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान देने वाले 25 लोगों को सरस्वती सम्मान से सम्मानित किया गया। बसंत पंचमी के पावन अवसर पर विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा जेनिथ कामर्स एकाडमी के वर्मा सेंटर स्थित ब्रांच में धूमधाम से मनायी गयी।बच्चों ने विधि-विधान से विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा-अर्चना की।छात्र-छात्राओं ने एक-दूसरे को अबीर-गुलाल लगाकर बसंत पंचमी की बधाई दी। इसके बाद श्रद्धालुओं के बीच प्रसाद वितरण किया गया। इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि बीएमपी एआईजी श्री अरविन्द ठाकुर,राष्ट्रीय लोक समता पार्टी महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती मधु मंजरी और दस्तक प्रभात के संपादक प्रभात वर्मा उपस्थित थे। जेनिथ कामर्स एकाडमी के डायरेक्टर सुनील कुमार सिंह ने पुष्प गुच्छ एवं मोमेंटो देकर आगत अतिथियों का स्वागत किया।

समारोह में आगत अतिथिओं द्वारा अलग-अलग विधाओं में महारथ हासिल करने वाले 25 लोगों को सरस्वती सम्मान से सम्मानित किया गया जिसमें आकांक्षा चित्रांश (समाजसेवी) ,मोहम्मद शमशुद्दीन (शिक्षाविद), अभिषेक मिश्रा (संगीतज्ञ) ,मास्टर उज्जवल, (कोरियोग्राफर) ,कुंदन कुमार, अंकित पीयूष (मीडिया) ,राजेश राज (समाजसेवा) ,आकाश (गायक) ,सपना गोयल और रंजीत कुमार (कला) प्रमुख रहे। श्री सुनील कुमार सिंह ने कहा कि सरस्वती माता की पूजा का बड़ा महत्व होता है क्योंकि सरस्वती माता बु्द्धि की देवी होती हैं। हर व्यक्ति के लिए सरस्वती माता का महत्व होता है। हमें वसंत पंचमी के दिन सरस्वती माता की आराधना करनी चाहिए उनकी पूजा करना चाहिए।

उन्होंने कहा हमारे इंस्टीच्यूट में शिक्षा के साथ ही खेलकूद, सांस्कृतिक एवं अन्य गतिविधियों भी आयोजित की जाती हैं, ताकि बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके। उन्होंने कहा कि जेनिथ कॉमर्स अकेडमी पिछले 19 वर्षों से कॉमर्स के शिक्षा क्षेत्र में विद्यार्थिओं के सुनहरे भविष्य के लिए निरंतर प्रयासरत है। हमारा उद्देश्य पढ़ाई की गुणवत्ता को बरकरार रख छात्रों को अच्छी शिक्षा प्रदान करना है जिससे उनका भविष्य संवर सके। विद्या की देवी मां सरस्वती है। हमें मां सरस्वती से वंदना करनी चाहिए कि वह हमें शिक्षा का आपार ज्ञान दें।बच्चों में प्रतिभा की कमी नहीं है ,बस जरूरत है उन्हें निखारने की। मां सरस्वती से हमें ज्ञान लेना चाहिए हे मा मुझे इतनी शक्ति दो कि मैं बुलंदियों को छू सकूं। श्री अरविंद ठाकुर ने कहा कहा कि विद्या की देवी मां सरस्वती है। हमें मां सरस्वती से वंदना करनी चाहिए कि वह हमें शिक्षा का आपार ज्ञान दें।

श्रीमती मधु मंजरी ने कहा कि मां सरस्वती जी की पूजा का विशेष महत्व है।सरस्वती माता विद्या की देवी होती हैं। जो माता सरस्वती की पूजा करता है, उनकी आराधना करता है, उसका पढ़ाई में बहुत ही अच्छी तरह से मन लगता है। और वह जीवन में आगे बढ़ता है इसलिए विद्यार्थियों के लिए सरस्वती माता की पूजा का विशेष महत्व है। प्रभात वर्मा ने कहा ज्ञान की देवी सरस्वती को विद्या प्रदान करने वाली देवी कहा जाता है। ऐसी मान्यता है कि मां सरस्वती की कृपा से जड़बुद्धि भी विद्वान हो जाते हैं। इसी दिन से वसंत ऋतु का आगमन होता है इसलिए इस दिन गुलाल का टीका लगाना शुभ माना जाता है।

31-Jan-2020 08:18

शिक्षा मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology