20-Sep-2019 11:05

भूमिहार ब्राह्मण को आंधी नहीं रोक पाती तो राजनीतिक दलों की वजूद ही क्या है : आशुतोष

पटना में भूमिहार ब्राह्मण महाकुंभ यज्ञ करने जा रहे है जोकि 7 नवंबर को 5 लाख के संख्या में भूमिहार ब्राह्मण एकत्रित होंगे।

भूमिहार ब्राह्मण समाज एक ऐसा समाज है, जो कि किसी की पहचान का मोहताज नही हैं। भूमिहार ब्राह्मण समाज अदर समाज को भी हमेसा से ही मान सम्मन देता आ रहा हैं। जब जब भी देश पर आफद आया है तब तब भूमिहार ब्राह्मण समाज सब से आगे खड़ा हुआ हैं। जब हमारा देश गुलाम था तब भी आजादी का पहला विगुल फूंकने वाले ब्राह्मण अमर शहीद मंगल पाण्ड्य थे। देख जाए तो आज भी भूमिहार सेना में 80% भूमिहार ब्राह्मण समाज से आते है इसका कारण भी यह है कि सेना के भर्ती में आरक्षण नामक जंजीर नही हैं, करी मेहनत के बाद भारतीय सेना में जाना पड़ता हैं। थोड़ा पीछे चले तो देश मे जितना कॉलेज, स्कूल,अस्पताल, सरकारी दफ्तर है इस मे 95% भूमिहार ब्राह्मण के दान दिए हुए जमीन में बना हुआ हैं, कुच्छ दलित समाज के नेता कहते हैं कि सवर्ण समाज हमारे साथ अन्याय किया है सोशन किया हैं, लेकिन उनको पता होना चाहिए कि आज वो मंत्री, या किसी बड़े पद पर बैठा है तो किसी न किसी भूमिहार ब्राह्मण का सहयोग से ही बैठा हैं।

हमारे पूर्वज तो लाखों एकर जमीन में तो दलित महादलित को वसाया हैं, जब उन लोगो के पास खेती के लिए जामिन नही था तो भूमिहार ब्राह्मण अपना जमीन देदिया खेती बाड़ी करने के लिए, जो अपने आगे के पीढ़ी को बताया तक नही और आज वो लोग मालिक बन कर बैठा हैं। आज भी देखा जाए तो भूमिहार ब्राह्मण के जमीन से 75% दलित महादलित जी रहे है, और अपना दुख सुख बाट रहे हैं और यह हकीकत हैं, यहाँ तक कि दलित समाज को मंदिर में जान मना था तो बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री केसरी श्री बाबू ने सभी को मंदिर में जाने का आदेश दिया, मेरा किसी को ताना देना नही है लेकिन आज जो हम लोगो के साथ दोहरी नीतियां किया जा रहा है और ऊपर से सोशन का आरोप लगा रहे है उसके लिए हैं। आज अगर सरकार की बात करे तो बिहार में लालू 15 साल राज किया इसका भी देंन भूमिहार ब्राह्मण था, नीतीश कुमार उर्फ पलटू कुमार भी 14 साल से सत्ता में बैठा है जिसके पीछे भूमिहार ब्राह्मण हैं। भूमिहार ब्राह्मण जिसके साथ रह वह राज किया कांग्रेस के साथ रह तो कॉग्रेस 70 साल राज किया आज भजपा के साथ है तो भजपा राज कर रहा हैं यही हकीकत हैं।

लेकिन दुःख की बात यह है कि हमारे पूर्वज आपने लिए कोई विकल्प नही तैयार किए और जिन पर विश्वास कर के सत्ता में बैठाय वही भूमिहार ब्राह्मण के साथ सोशन करना सुरु कर दिया। आज भूमिहार ब्राह्मण को चुन चुन कर मारा जा रहा हैं, सभी पार्टियां सिर्फ भूमिहार ब्रहामणों से झंडा ढोबाने का काम करबा रहा है और कुछ भूमिहार ब्राह्मण अपने फायदे के लिए ढोते ते आ रहे हैं। भूमिहार ब्राह्मण नेताओ के बात करे तो यह लोग सिर्फ चुनाव के समय आता है तो चुपके से कान में आ कर कहते है कि तोरे न जात छियो ध्यान दीयाहू, लेकिन इनकी औकाद नही की खुले मंच से कह सके कि हम भूमिहार ब्राह्मण हूं और हमे समाज ने वोट देकर भेजा है उनका भी अधिकार चाहिए। सब से जादा शर्मनाक तब हुआ जब संसद मे ac/sct एक्ट लागू हुआ जोकि बिना जांच हुए सीधा जेल पर इन लोगो का एक बार भी चोंच नही खुला। कोई अपने पूत मोह में तो कोई कुर्सी मोह में चुप रह गया।

लेकिन आज भूमिहार ब्राह्मण समाज को एक बेटा मिला है जो खुले मंच से भूमिहार ब्राह्मण बोलता है और भूमिहार ब्राह्मण के लिए अबाज उठाता है और हर दुःख सुख में समाज के साथ खड़ा रहता हैं जिनका नाम है माननीय #आशुतोष कुमार जी जो आज 10 सालो से भूमिहार ब्राह्मण के अधिकार ले लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। और वह अपने आपको खुले मंच से भूमिहार ब्राह्मण बोलने पे श्रम नही गर्व करते हैं। आशुतोष कुमार ने आज वो करने जा रहे है जो आजतक इतिहास में नही हुआ है, बिहार के गांधी मैदान पटना में भूमिहार ब्राह्मण महाकुंभ यज्ञ करने जा रहे है जोकि 7 नवंबर को 5 लाख के संख्या में भूमिहार ब्राह्मण एकत्रित होंगे। जिस में आप सभी भूमिहार ब्राह्मण सादर आमंत्रित हैं। मैं आप सभी को बता दु की यह पहल भूमिहार का बेटा है जो की भूमिहार ब्राह्मण के अधिकार के लिए लड़ रहा है, और भूमिहार ब्राह्मण को अपना अधिकार मांगने का विकल्प दे रहा हैं। इस लिए आप तमाम परशुराम वंशजो अनुरोध है कि यह मौका हाथ से जाने नही दे और 7 नवंबर को पटना गांधी मैदान में पहुँचे। जय परशुराम, जय भूमिहार ब्राह्मण, जय अशुतोष क्रांति

20-Sep-2019 11:05

सम्मान मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology