22-Dec-2018 07:18

राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा पाँचवें चरण में पहुँची आरा

भारतीय संविधान के तहत समानता का अधिकार की यात्रा हैं राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा : ई. रविन्द्र कुमार सिंह

21 दिसंबर से 'राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा' के पांचवें चरण की शुरुआत भोजपुर जिले से की गई। यात्रा की शुरुआत करते हुए यात्रा के संयोजक रविन्द्र कुमार सिंह ने शुक्रवार को कहा कि देश में सवर्णो का योगदान हमेशा से राष्ट्र और समाज निर्माण का रहा है, आज तक तमाम राजनीतिक दलों ने आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के बीच जातीयता का जहर बोकर समाज में विभेद पैदा किया है।

ई. रविन्द्र कुमार सिंह ने कहा, "हमारी मांग सत्ता की नहीं, देश की एकता अखंडता और विभेद को दूर करने की है। समाज में विभेद का जवाब मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के चुनावों में देखने को मिला है।" ई. सिंह ने कहा कि 25 फरवरी को पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में लाखों सवर्ण इकट्ठा होंगे और अपनी एकजुटता का परिचय देंगे। यह यात्रा पांचवें चरण में बक्सर, भभुआ (कैमूर), रोहतास, औरंगाबाद और अरवल जिले में होगी।

ई. रविन्द्र कुमार सिंह ने कहा, "दो अक्टूबर को चंपारण की धरती से हमलोग राष्ट्रीय समान अधिकार यात्रा पर हैं, जिसका मकसद देश में सामानता कायम करना है। आज यह यात्रा बिहार के 22 जिलों के विभिन्न गांवों, कस्बों, मुहल्लों से होते हुए आरा पहुंचा है। आजादी के बाद से ही सवर्ण समाज के साथ धोखा हुआ है।" ई. रविन्द्र कुमार सिंह ने केंद्र सरकार पर सर्वोच्च न्यायालय के अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति कानून के फैसले को न मानने का आरोप लगाते हुए कहा कि उसका जवाब भाजपा सरकार को तीन राज्यों में मिल गया है।

ई. रविन्द्र कुमार सिंह कहा, "हम चाहते हैं कि देश की सामाजिक समरसता को बनाए रखने के लिए समाज में शिक्षा, रोजगार, आर्थिक मजबूती और देश की प्रगति की बात होनी चाहिए। हमारी मांग है कि देश में एक समान शिक्षा, स्वास्थ्य व्यवस्था और युवाओं के लिए रोजगार सुनिश्चित हो।" इस मौके पर रोहित सिंह रैकवार ने कहा, "हम सभी भारतीय हैं। अखंड भारत के लिए हम जातिवाद खत्म करके ही दम लेंगे। हमारी मांग है कि देश में एक समान शिक्षा, स्वास्थ्य, समान अधिकार मिले। किसी के साथ कोई भेदभाव न हो।" उन्होंने कहा, "आरक्षण की समीक्षा हो और जो लोग गरीब हैं, वे किसी भी जाति के हों, उन्हें आरक्षण का लाभ मिले। आरक्षण आर्थिक आधार पर लागू हो। देश की नागरिकता रखने वाले सभी भारतीय एक हैं और हम ऐसे ही भारत का निर्माण चाहते हैं।" इस मौके पर बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

22-Dec-2018 07:18

सामाजिक_संस्थान मुख्य खबरें

समाचार भारत_दर्शन राजनीति खेल जुर्म शिक्षा चिकित्सा धर्म परम्परा व्यक्तित्व कला सम्मान फिल्म सामाजिक_संस्थान रोजगार कानून अर्थव्यवस्था समस्या पर्यावरण सैनिक पुलिस गांव शहर ज्योतिष सामान्य_प्रशासन जन_संपर्क छात्र_छात्रा
Copy Right 2020-2025 Ahaan News Pvt. Ltd. || Presented By : CodeLover Technology