भारत बंद का श्रेय किसी दल को लेने का अधिकार नहीं सबने किसानों को छला है-चन्द्रमणि पाण्डेय ।





कल 8दिसम्बर को भारत बंद को सफल बनाने की अपील करते हुए किसानों नौजवानों के पक्ष में निरन्तर संघर्ष करने वाले समाजसेवी चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामाजी ने लोगों से दलगत भाव से उपर उठकर भारत बंद को ऐतिहासिक व सफल बनाने की अपील करते हुए कहा कि भारत बंद का श्रेय किसी दल को लेने का अधिकार नहीं सबने किसानों को छला है।



किसान खुद ऐतिहासिक भारत बंद करने में समर्थ हैं। उन्होंने कहा कि किसान है तो शान है वरना चलना शमशान है आयें एक दिन दलीय भाव से परे अन्नदाताता का साथ दें व 8 दिसम्बर भारत बंद सफल बनायें न सपा न बसपा न कांग्रेस के कहने से भारत बंद हो किसान के खहने से भारत बंद सफल हो किसान के सम्मान में 8 दिसम्बर को न जायें किसी भी दुकान में उन्होंने कहा कि अन्नदाता का साथ वही इंसान नहीं देगा जो जानवरों से भी बद्तर होगा कारण कुत्ता भी जिसकी रोटी खाता है उसके प्रति वफादारी दिखाता है।






उन्होने कहा कि कल की खरीदारी आज कर लो या कल की खरीददारी परसों कर लो एक दिन अन्नदाता के नाम कर लो किसानों के पक्ष में भारत बंद का समर्थन वहीं नहीं करेंगें जो अपने पिता को पिता न कहकर गैरों को पिताजी कहते है यही कारण है कि आलू गन्ना गेहूं पैदा करने वाला किसान बदहाल है जबकि चिप्स,चीनी,बिस्किट बनाने वाला मालामाल है।






कृषक व कृषिउत्पाद हित भारत बंद की अपील करते हुए कहा कि जाति धर्म दल के नाम पर भारत बंद करने वालों एक दिन देश के सच्चे मालिक पालनहार किसान हित अपना योगदान देकर जय जवान का नारा साकार करो बंद का विरोध करने वालों खुद को किसान न मानने वालों से कहा कि सात नहीं तीन पीढी ही पीछे देख लो आप गांव के निवासी व किसान हो कि नहीं यदि हो तो एक दिन किसान हित में दें। श्री पाण्डेय ने ऐलान किया कि आवश्यकता पडी तो व कल किसान हितों को लेकर सूबे की राजधानी कूच करेंगें उन्होंने कहा कि अब सिर्फ दिल्ली प्रदर्शन से नहीं अपितु हर जिले व हर प्रांत मुख्यालय को घेरकर प्रदर्शन करने की जरूरत है तभी सत्ता मद में डूबी सरकार किसानों को चसका अधिकार देने को विवश होगी ।

संपर्क

संपर्क करें